त्रिपुरा में BJP की सरकार बनी तो मौजूदा मंत्रिमंडल जेल में होगा: अमित शाह

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने त्रिपुरा में माकपा के 25 साल के शासन में भ्रष्टाचार के कारण राज्य के पिछड़ने का आरोप लगाया.

473

आगामी त्रिपुरा विधानसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को अगरतला में जन सभा को संबोधित किया, जिसमें उन्होंने इस राज्य को विकसित बनाने का दावा किया. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने त्रिपुरा में माकपा के 25 साल के शासन में भ्रष्टाचार के कारण राज्य के पिछड़ने का आरोप लगाया. शाह ने कहा कि हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में त्रिपुरा को आदर्श और विकसित राज्य बनाना चाहते हैं.

‘बीजेपी के बगैर त्रिपुरा का विकास संभव नहीं’
शाह ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि जब तक त्रिपुरा में माकपा की सरकार है यहां विकास संभव नहीं है. जहां भी माकपा की सरकार होती है वहां गरीबी होती है और बेरोजगारी होती है. जहां बीजेपी की सरकार होती है, वहां विकास होता है.

उन्होंने कहा कि बीजेपी त्रिपुरा में एक ऐसी सरकार देना चाहती है जो त्रिपुरा की महान परंपराओं, उसकी संस्कृति, राज्य के महानायकों और जननायकों को सम्मान देने का काम करे. उन्होंने आरोप लगाया कि त्रिपुरा की माकपा सरकार, गरीबों को गरीब बनाये रखना चाहती है ताकि वह उनका वोटबैंक की तरह इस्तेमाल कर सके.

बीजेपी सत्ता में आई तो पूरा मंत्रिमंडल जेल में दिखायी देगा
शाह ने कहा, ‘त्रिपुरा में आगामी विधानसभा चुनाव में तीन पार्टी चुनाव लड़ने वाली हैं जिसमें कम्युनिस्ट पार्टी, कांग्रेस और बीजेपी हैं. कम्युनिस्ट पार्टी पूरी दुनिया में समाप्त हो गई है और कांग्रेस पूरे देश में. ऐसे में त्रिपुरा की जनता का वोट ‘सबका साथ , सबका विकास’ के सिद्धांत पर काम करने वाली बीजेपी को जाना चाहिए.’’

बीजेपी अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि त्रिपुरा में हर साल होने वाले अपराधों में अधिकांश माताओं और बहनों के खिलाफ होते हैं. हम त्रिपुरा की माताओं और बहनों की स्थिति को बदलना चाहते हैं और इसके लिए राज्य में बीजेपी की सरकार आना जरूरी है. उन्होंने आरोप लगाया कि रोज वैली चिटफंड से लेकर ऐसे भ्रष्टाचार के अनेक मामले हैं जिसमें प्रदेश सरकार आकंठ डूबी हुई है. यदि मुख्यमंत्री चिटफंड के गुनाहगारों को पकड़ना शुरू करें तो उनका पूरा मंत्रिमंडल जेल में दिखायी देगा.

बीजेपी अध्यक्ष ने प्रदेश की जनता को आश्वासन दिया कि राज्य में बीजेपी सरकार के गठन के अगले दिन ही सरकारी कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग का लाभ प्रदान कर दिया जाएगा.

Comments

comments